Tuesday, September 17, 2019
मेरी कहानी - ट्रांसजेंडर होते हुए भी पूरी की पढ़ाई

मेरी कहानी – ट्रांसजेंडर होते हुए भी पूरी की पढ़ाई

हमारे देश में अभी भी जेंडर, सेक्स और सेक्सुअलिटी पर खुलकर बात नहीं होती है| ऐसे में ट्रांसजेंडर लोगों को पढ़ना जरूरी है, क्योंकि यही हमें समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का अहम पुल साबित होगा|
मेरी कहानी - लड़की का मायना सिर्फ शादी ही नहीं

मेरी कहानी – लड़की का मायना सिर्फ शादी ही नहीं

शादी का मतलब बस ये नहीं कि आप अपने भविष्य को दांव पर लगाकर और अपनी रूचि का त्यागकर सिर्फ गृहस्थी तक सीमित हो जाए|
पीरियड के मुद्दे ने मुझे मर्द होने का असली मतलब समझा दिया

पीरियड के मुद्दे ने मुझे मर्द होने का असली मतलब समझा दिया

पीरियड के मुद्दे पर काम करने से मुझे मर्द होने का असली मतलब समझ आ गया कि मर्द होने का मतलब औरतों से अपनी तुलना करके उनको नीच दिखाना नहीं|
जाति की परछाई वाला मेरा कड़वा अनुभव

जाति की परछाई वाला मेरा कड़वा अनुभव

अपने जीवन में मैंने लंबे समय तक जातीय भेदभाव का कड़वा अनुभव किया है जहाँ मेरी जाति को मेरी पहचान माना जाता था जो मेरी काली परछाई बन गयी|

गर्व है मुझे कैरेक्टरलेस होने पर – मेरी कहानी

अगर रिश्तेदारों के अनुसार लड़कों से दोस्ती करना, विरोध करना या अपनी बात कहना कैरेक्टरलेस होना है तो ‘मुझे गर्व है कि मैं कैरेक्टरलेस हूँ|’
भारत में क्वीयर मुसलमान होना – मेरी कहानी

भारत में क्वीयर मुसलमान होना – मेरी कहानी

क्वीयर होना अपने आप में एक खूबसूरती है, क्योंकि आप समाज में स्थापित सिसजेंडर हैट्रोपैट्रिआरकी को ठेंगा दिखाकर अपने मूल जैविकी व लैंगिकता के साथ जीना शुरू कर देते है।