Tuesday, September 17, 2019
‘ऋषि पंचमी व्रत’ - पीरियड को पाप मानकर शुद्ध होने का संकीर्ण रिवाज

‘ऋषि पंचमी व्रत’ – पीरियड को पाप मानकर शुद्ध होने का संकीर्ण रिवाज

ऋषि पंचमी व्रत महिलाओं के पीरियड के दौरान मन्दिर या रसोई जैसे अन्य निषेधों जैसे पापों को दूर करने के लिए किया जाता है|

देवी की माहवारी ‘पवित्र’ और हमारी ‘अपवित्र?’

आषाढ़ के महीने में गुवाहाटी के कामाख्या मंदिर की देवी को माहवारी होती है। देवी को होने वाली इस सालाना माहवारी का भक्त पूरे साल इंतज़ार करते हैं।

महिलाओं का ‘खतना’ एक हिंसात्मक कुप्रथा

महिलाओं में खतना प्रथा का चलन दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय में सबसे अधिक देखा जाता है | दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय, शिया मुसलमानों माने जाते हैं|

पीरियड से जुड़ी एक खौफनाक प्रथा ‘छौपदी’

नेपाल में पीरियड के दौरान लड़की को घर के बाहर झोपड़ी में या पशुओं के बाड़े में रहने पर मजबूर होना पड़ता है, इस प्रथा को छौपदी कहा जाता है|

करवा चौथ का ‘कड़वा-हिस्सा’ है ये अनछुए पहलू

आज के दौर में करवा चौथ के त्यौहार को आधुनिक ढकोसलों से इस कदर घेरा गया है कि अब यह त्यौहार से ज्यादा फैशन के तौर पर जाना जाने लगा है|