FII is now on Telegram

औरतों, लड़कियों के साथ होने वाले अपराध के लिए उनके कपड़ों, कैरेक्टर, वह कहां थी, किस वक्त किसके साथ थी, रात में देर तक बाहर क्यों थी, अपराध के खिलाफ बोलने, चुप रहना, यहां तक कि चाउमीन खाना, अलग-अलग कारण देकर हर बार औरतों और लड़कियों की ही जवाबदेही तय होती है। मर्दों का क्या है, उनसे तो ‘गलती’ हो जाती है, हम नहीं कह रहे हमारा पितृसत्तात्मक समाज कहता है। तो चलिए आज FII के इस वीडियो में हम बात करेंगे क्या होती है विक्टिम ब्लेमिंग?

Follow FII channels on Youtube and Telegram for latest updates.

नारीवादी मीडिया को ज़रूरत है नारीवादी साथियों की

हमारा प्रीमियम कॉन्टेंट और ख़ास ऑफर्स पाएं और हमारा साथ दें ताकि हम एक स्वतंत्र संस्थान के तौर पर अपना काम जारी रख सकें।

फेमिनिज़म इन इंडिया के सदस्य बनें

अपना प्लान चुनें

Leave a Reply